Subscribe Us

भवसागर पड़ी मेरी नैया / Bhgavsagar Padi Meri Naiya Lyrics in Hindi – Saurabh Madhukar

Bhavsagar Padi Meri Naiya Lyrics in Hindi – ‘Bhavsagar Padi Meri Naiya’ is Khatu Shyam Bhajan sung by Saurabh Madhukar. Lyrics of Bhavsagar Padi Meri Naiya Aaja Aaja Re Mere Kanhaiya bhajan are written by Saurabh Madhukar.  Music label is Sur Saurabh Industries.

Bhajan – Bhav Sagar Padi Meri Naiya
Singer – Saurabh Madhukar
Lyrics – Surabh Madhukar
Music Label – Sur Saurabh Industries.

Bhavsagar Padi Meri Naiya Lyrics in Hindi

भवसागर पड़ी मेरी नैया
अब आजा रे मेरे कन्हैया
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खिवैया

भवसागर पड़ी मेरी नैया
अब आजा रे मेरे कन्हैया
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खिवैया

(संगीत)

बीच सभा में जब द्रौपदी ने तुमको टेर लगाई थी
प्रेम के बंधन में बंध कर तूने बहन की लाज बचाई थी

जब द्रौपदी ने तुमको पुकारा
आया बहना का बन के तू भैया
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खिवैया

भवसागर पड़ी मेरी नैया
अब आजा रे मेरे कन्हैया
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खिवैया

(संगीत)

सखा सुदामा से साँवरिया तूने निभायी थी यारी
मीरा के विष के प्याले को अमृत कर दिया बनवारी

नानी,नरसी ने तुझको पुकारा
आया आया तू बंशी बजैया
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खिवैया

भवसागर पड़ी मेरी नैया
अब आजा रे मेरे कन्हैया
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खिवैया

(संगीत)

जरा सामने तो आ साँवरिया
छुप छुप छलने में क्या राज है
यूँ छुप ना सकेगा तू मोहन
मेरी आत्मा की ये आवाज़ है

‘सौरभ मधुकर’ हमने सुना है भगत बिना भगवान नहीं
भावना के भूखे है भगवन,कहते वेद पुराण यही

आज मैंने भी तुझको पुकारा
आके थाम ले मेरी तू बइयां
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खिवैया

भवसागर पड़ी मेरी नैया
अब आजा रे मेरे कन्हैया
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खिवैया

We hope you understood song Bhavsagar Padi Meri Naiya in Hindi and English both. If you have any issue regarding the lyrics of this song, please contact us. Thank you.

The post भवसागर पड़ी मेरी नैया / Bhgavsagar Padi Meri Naiya Lyrics in Hindi – Saurabh Madhukar appeared first on Lyricsgaon.

Post a Comment

0 Comments